August 9, 2020

Yeh Shaam Mastani Lyrics – Kishore Kumar – Kati Patang

Yeh Shaam Mastani Lyrics Kati Patang

Yeh Shaam Mastani Lyrics is a Hindi song singing by Kishore Kumar from the movie Kati Patang 1970. features Rajesh Khanna, Asha Parekh, Prem Chopra, Bindu song was released on 19th March 1970 by Saregama. Yeh Shaam Mastani Lyrics written by Anand Bakshi and music by Rahul Dev Burman.

Singer:-Kishore Kumar
Lyrics:-Anand Bakshi
Music:-R.D Burman

Yeh Shaam Mastani Lyrics

English
Hindi

Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

Dur rahati hai tu
Mere paas aati nahi
Hotho pe tere kabhi
Pyaas aati nahi
Aisaa lage jaise ki tu
Hansake zahar koi piye jaaye

Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

(MUSIC)

Baat jab main karun
Mujhe rok deti hai kyon
Teri mithi nazar mujhe
Tok deti hai kyon
Teri hayaa teri sharam
Teri qasam mere
Honth siye jaaye
Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

(MUSIC)

Ek ruthi hui taqadir jaise koi
Khaamosh aise hai
Tu tasvir jaise koi
Teri nazar banake Zubaan
lekin tere Paigaam diye jaaye

Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

Ye shaam mastaani
Madahosh kiye jaaye
Mujhe dor koi khinche
Teri aur liye jaaye

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

दूर रहती है तू
मेरे पास आती नहीं
होठों पे तेरे
कभी प्यास आती नहीं
ऐसा लगे जैसे के तू
हँस के ज़हर कोई पिए जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

बात जब मैं करू
मुझे रोक देती है क्यों
तेरी मीठी नज़र
मुझे टोक देती है क्यों
तेरी हया, तेरी शर्म
तेरी कसम मेरे होंठ सिये जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

एक रूठी हुई
तकदीर जैसे कोई खामोश ऐसे है तू
तस्वीर जैसे कोई
तेरी नज़र बनके ज़ुबां
लेकिन तेरे पैगाम दिए जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए

ये शाम मस्तानी
मदहोश किये जाए
मुझे डोर कोई खींचे
तेरी और लिए जाए