May 8, 2021

Kabhi Kabhi Aditi Lyrics – Rashid Ali – Jaane Tu Ya Jaane Na

Kabhi Kabhi Aditi Lyrics - Rashid Ali - Jaane Tu Ya Jaane Na

Kabhi Kabhi Aditi Lyrics Song Singing by Rashid Ali from the romantic Bollywood movie Jaane Tu Ya Jaane Na features Imran Khan and Genelia D’Souza in the lead role. Kabhi Kabhi Aditi Song Lyrics are written by Abbas Tyrewala and music is given by AR Rahman and the song was released on 4th July 2008 by T-Series.

Singer:Rashid Ali
Lyrics:-Abbas Tyrewala
Music:AR Rahman

Kabhi Kabhi Aditi Lyrics

Kabhi Kabhi Aditi Zindagi Me Yun Hi Koi Apna Lagta Hai
Kabhi Kabhi Aditi Woh Bichad Jaye Toh Ek Sapna Lagta Hai
Aise Me Koi Kaise Apne Aansuon Ko Bahene Se Roke
Aur Kaise Koi Sochle Everything Gonna Be Okay

Kabhi Kabhi Toh Lage Zindagi Me Rahi Na Khushi Aur Na Maza
Kabhi Kabhi Toh Lage Har Din Mushkil Aur Har Pal Ek Saza
Aise Me Koi Kaise Muskuraaye, Kaise Has De Khush Hoke
Aur Kaise Koi Sochle Everything Gonna Be Okay

Soch Zara Jaane Ja Tujuko Hume Kitna Chahte Hain
Rote Hum Bhi Agar Tere Aankhon Me Aansun Aate Hain
Gaan Toh Aata Nahi Hai Magar Fir Bhi Gaate Hain
Hey Aditi Maan Kabhi Kabhi Saare Jahan Me Andhera Hota Hai
Lekin Raat Ke Baad Hi Toh Savera Hota Hai

Kabhi Kabhi Aditi Zindagi Me Yun Hi Koi Apna Lagta Hai
Kabhi Kabhi Aditi Woh Bichad Jaye Toh Ek Sapna Lagta Hai
Hey Aditi Has De Has De Has De Has De Has De Tu Zara
Nahi Toh Bas Thoda Thoda Thoda Thoda Thoda Thoda Muskura

READ More Lyrics:-  Tajdar E Haram Lyrics - Satyameva Jayate - Atif Aslam

Tu Khush Hai Toh Lage Ke Jahan Chaiyi Hai Khushi
Sooraj Nikle Baadalon Se Aur Baaten Zindagi
Sun Toh Zara Madhosh Hawa Tujhse Kehne Lagi
Ki Aditi Woh Jo Bichadte Hain Ik Na Ik Din Fir Mil Jate
Yeh Aditi Jaane Tu Ya Jaane Na Phool Fir Khil Jate Hain

Kabhi Kabhi Aditi Zindagi Me Yun Hi Koi Apna Lagta Hai
Kabhi Kabhi Aditi Who Bichad Jaye Toh Ek Sapna Lagta Hai
( Hey Aditi Has De Has De Has De Has De Has De Tu Zara
Nahi Toh Bas Thoda Thoda Thoda Thoda Thoda Thoda Muskura ) x5

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता है
कभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता है
ऐसे में कोई कैसे अपने आंसुओं को बहने से रोके
और कैसे कोई सोचले Everything Gonna Be Okay

कभी कभी तो लगे जिंदगी में रही ना खुशी और ना मज़ा
कभी कभी तो लगे हर दिन मुश्किल और हर पल एक सज़ा
ऐसे में कोई कैसे मुस्कुराए, कैसे हंस दे खुश होके
और कैसे कोई सोचले Everything Gonna Be Okay

सोच ज़रा जानेजां तुझको हम कितना चाहते हैं
रोते हैं हम भी अगर तेरी आंखों में आंसूं आते हैं
गाना तो आता नहीं है मगर फ़िर भी हम गाते हैं
हे अदिति माना कभी कभी सारे जहाँ में अँधेरा होता है
लेकिन रात के बाद ही तो सवेरा होता है

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता है
कभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता है
हे अदिति हंस दे हंस दे हंस दे हंस दे हंस दे तू ज़रा
नहीं तो बस थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा मुस्कुरा

READ More Lyrics:-  Gulabi Aankhein Lyrics - Mohammad Rafi - Sanam - The Train

तू खुश है तो लगे की जहाँ में छाई है खुशी
सूरज निकले बादलों से और बाँटें जिंदगी
सुन तो ज़रा मदहोश हवा तुझसे कहने लगी
की अदिति वो जो बिछड़ते हैं एक ना एक दिन फ़िर मिल जाते
ये अदिति जाने तू या जाने न फूल फ़िर खिल जाते हैं

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता है
कभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता है
( हे अदिति हस दे हस दे हस दे हस दे हस दे तू ज़रा
नहीं तो बस थोडा थोडा थोडा थोडा थोडा थोडा मुस्कुरा ) x5