August 9, 2020

Asli Hip Hop Lyrics – Gully Boy | Ranveer Singh | Spitfire

Asli Hip Hop Lyrics Gully Boy

Asli Hip Hop Lyrics song from movie Gully Boy. starring Ranveer Singh and Alia Bhatt. The song is performed by Ranveer Singh while rap. Asli Hip Hop Lyrics and music composed by Spitfire.

Singer:-Ranveer Singh
Lyrics:-Spitfire
Music:-Spitfire

Asli Hip Hop Lyrics

English
Hindi

Thanda kuch nahi sab garam hi garam hai
Angaar hai, angaar hai
2 by 4, 2 se 4 hai
O ho…

Ab karo D-Cypher bhai!
(Old school, Old school wala flow)

Khada hoon kaise main yahan pe
Ab na puchna, dard shayri mein
Tujhko chahiye saboot kya
Shikhar yeh soch par
Juda hoon main zameen se

Yaqeen tumko na par aage aaya main yakeen se
Laakh nafratein hon saath Maa ka pyaar hai
Hansi hai uski jeet meri kaise jaau haar main
Kaat lo zubaan aansuon se gaaunga
Gaad do, beej hoon main ped ban hi jaunga
(aaho)

Dil tha toota tab Hip-Hop mere saath tha
Ujaale milne mein mujhe
Haan raat ka hi haath tha
Kalakaar main, kal ko aakar doon
Yehi hai mera dharm
Meri dusri koi jaat na

Maa hai Rabb meri
Gali yeh meri mashooqa
Ladka aida main, jhukane par bhi na jhuka
Sun rahe jo mujhko beshumaar pyaar unse
Banata geet main
Par main khud bana hoon tumse
Gaur karlo meri baaton pe tum dhyan do
Naino ko main namm karun
Sukoon main deta kaan ko

Chilaao zor se uthao apne haath tum
Asli Hip-Hop se milayein Hindustan ko
Hindustan ko, haan ji Hindustan ko
Asli Hip-Hop se milayein Hindustan ko
Hindustan ko, haan ji Hindustan ko
Asli Hip-Hop se milayein Hindustan ko, kya!

Apna time aayega!

ठंडा कुछ नहीं सब गरम ही गरम है
अंगार है अंगार है
2 by 4, 2 से 4 है
ओ हो..

अब करो D-Cypher भाई
ओल्ड स्कूल, ओल्ड स्कूल वाला फ्लो

खड़ा हूँ कैसे मैं यहाँ पे
अब ना पूछना, दर्द शायरी में
तुझको चाहिए सबूत क्या
शिखर ये सोच पर
जुदा हूँ मैं ज़मीन से

यकीन तुझको ना पर आगे आया मैं यकीन से
लाख नफरतें हों साथ माँ का प्यार है
हंसी है उसकी जीत मेरी कैसे जाऊं हार मैं
काट लो जुबान आंसुओं से गाऊंगा
गाड़ दो, बीज हूँ मैं पेड़ बन ही जाऊंगा
आहो

दिल था टूटा तब हिप-हॉप मेरे साथ था
उजाले मिलने में मुझे
हाँ रात का ही हाथ था
कलाकार मैं, कल को आकार दूं
येही है मेरा धर्म
मेरी दूसरी कोई जात ना

माँ है रब मेरी
गली ये मेरी माशूका
लड़का ऐडा मैं, झुकाने पर भी ना झुका
सुन रहे जो मुझको बेशुमार प्यार उनसे
बनता गीत मैं
पर मैं खुद बना हूँ तुमसे
गौर करलो मेरी बातों पे तुम ध्यान दो
नैनो को मैं नम करूँ
सुकून मैं देता कान को

चिलाओ जोर से उठाओ अपने हाथ तुम
असली हिप-हॉप से मिलाएं हिंदुस्तान को
हिंदुस्तान को, हाँ जी हिंदुस्तान को
असली हिप-हॉप से मिलाएं हिंदुस्तान को
हिंदुस्तान को, हाँ जी हिंदुस्तान को
असली हिप-हॉप से मिलाएं हिंदुस्तान को, क्या

अपना टाइम आएगा